​ ​ लखीमपुर खीरी : बिना परिवहन प्रपत्र के बालू भरने वाले वाहनों को भरना पड़ेगा लाखों का जुर्माना
Saturday, August 15, 2020 | 7:09:03 AM

RTI NEWS » State News » UTTAR PRADESH


लखीमपुर खीरी : बिना परिवहन प्रपत्र के बालू भरने वाले वाहनों को भरना पड़ेगा लाखों का जुर्माना

Friday, July 24, 2020 07:45:54 AM , Viewed: 515
  • लखीमपुर खीरी के जिला अधिकारी शैलेन्द्र सिंह ने बालू के अवैध खनन के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि बिना परिवहन प्रपत्र के उपखनिज (बालू) भरने वाले वाहनों को अब जुर्माना लाखो में भरना पड़ेगा। अब तक ऐसे वाहन मात्र 25,000.00 रू0 का जुर्माना भरकर छूट जाते थे। इस जुर्माने के बाद अब अवैध खनन पर अंकुश लगेगा। आपको बताते चलें कि खीरी जिला अधिकारी शैलेन्द्र सिंह ने
    बताया कि उत्तर प्रदेश शासन ने यह निर्णय मा0 राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एन0जी0टी0) द्वारा बीते फरवरी माह में अतुल सिंह चैहान बनाम पर्यावरण मंत्री एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय व अन्य में पारित आदेश के क्रम में लिया है ,
    शासन के सचिव डाॅ0 रोशन जैकब द्वारा जिलाधिकारियों को भेजे गये पत्रों में निम्न प्रकार जुर्माना राशि अधिरोपित किये जाने का प्राविधान किया गया है। यदि कोई वाहन आदि जिसका शोरूम कीमत पच्चीस लाख रूपया से अधिक हो और वह 05 वर्ष से कम का हो, पर 04 लाख रूपया। यदि कोई वाहन आदि जिसका शोरूम कीमत पच्चीस लाख रू0 से अधिक हो और वह 05 वर्ष से अधिक तथा 10 वर्ष से कम का हो, पर 03 लाख रूपया। उपरोक्त के छोड़कर अन्य किसी प्रकार के वाहन पर 02 लाख रूपया।।।
    उन्होनें बताया कि राष्ट्रीय हरित अभिकरण (एन0जी0टी0) न इस आदेश को अवैध खनन से पर्यावरणीय नुकसान पर रोक लगाने के लिये दिया है। उक्त आदेश तत्काल प्रभाव से लागू किया जाता है।ब्यूरो रिपोर्ट राजीव खत्री ब्यूरो चीफ आर टी आई न्यूज व जिला मीडिया प्रभारी टीम भाजपा अटल सेना युवा मोर्चा लखीमपुर खीरी ।।

Reporter : rajeevkhatri,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।