​ ​ शरीर पर तिल के मायने और परिणाम भाग -2
Monday, October 26, 2020 | 1:46:03 AM

RTI NEWS » Others » Spritual


शरीर पर तिल के मायने और परिणाम भाग -2

Saturday, August 22, 2020 13:23:39 PM , Viewed: 197
  • पिछले भाग में हमने आपको तिल के विषय में बुनियादी जानकारी से परिचित करवाया था , 

    इस  भाग में हम आपको शरीर के अलग अलग भाग पर  तिल  के प्रभाव केबारे में बताएँगे। 

     

    स्त्री या पुरुष शरीर के अलग अलग भागों तिल की स्थिति,आकृति और रंग उसके व्यक्तित्व की राज भी बताती है   


    शरीर के कुछ भागों पर पाए जाने वाले तिल धन और परेशानी का संकेत देते हैं। 


    ज्योतिषियों के अनुसार पुरुष के दायी तरफ और स्त्री के बायीं तरफ के तिल शुभ और लाभप्रद होते  है 

    शरीर पर तिल के मायने और परिणाम भाग -1

    जानकारों के अनुसार शरीर पर 12 से अधिक तिल नहीं होने चाहिए। 


    माथे पे तिल - माथे के बिच का टिल प्रेम ,दायी तरफ  निपुणता , बायीं तरफ फिजूल खर्ची का प्रतिक माना गया है 

    भोहे  पे तिल - अधिकतम समय यात्रा में गुजरता है 

    आंख के पुतली  पे तिल - भवुकता  की निशानी है 

    पलक  पे तिल-संवेदनशील होते है 

    कान पे तिल-लम्बी आयु के संकेत हैं  

    नाक पे तिल -प्रतिभा संपन्न होते हैं 

    होठ   पे तिल - कोमल ह्रदय वाले होते है 

    मुँह  पे तिल -अच्छे जीवन साथी मिलते हैं 

    गाल  पे तिल शुभ फलदायक होते है 

    थोड़ी पे तिल सख्त स्वभावके होते है 

    कन्धा  पे तिल दृढ़ता और गुस्सैल होते है 

    बांह  पे तिल  बुद्धिमान किन्तु झगड़ालू होते है 

    हाथ पे तिल बलवान एवं फिजूल खर्ची 

    गले  पे तिल व्यव्हार कुशालऔर न्याय प्रिय्रे होते है 

    छाती  पे तिल  स्त्री प्यारी और पुरुष कर्मठ होते है 

    कमर पे तिल आराम पसंद होते हैं 

    पेट व्यक्ति चटोरा होते है 

    पैर णवान और धनवान होते है किन्तु शत्रुओ से घिरे होते है 

    घुटनो यात्रा के शौकीन होते हैं 



Reporter : Vikash Kumar,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।