​ ​ कांग्रेस का इतिहास षड़यंत्रों से भरा : योगी
Tuesday, July 16, 2019 | 4:50:30 AM

RTI NEWS » Others » History


कांग्रेस का इतिहास षड़यंत्रों से भरा : योगी

Wednesday, January 2, 2019 16:41:58 PM , Viewed: 4977
  •  लखनऊ, 2 जनवरी | उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह को जानबूझकर निशाना बनाया जाता है।

     कांग्रेस का इतिहास षड़यंत्रों से भरा पड़ा है। आदित्यनाथ बुधवार को राजधानी स्थित अपने सरकारी आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

    उन्होंने कहा, "अमित शाह को सीबीआई की विशेष अदालत और बंबई उच्च न्यायालय द्वारा सोहराबुद्दीन शेख मुठभेड़ मामले में दोषमुक्त करार दिया गया। जबकि कांग्रेस ने इस मुद्दे पर अमित शाह को फंसाने की हरसंभव कोशिश की। देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस की देश विरोधी गतिविधियों का खुलासा हो रहा है।"

    योगी ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ सोहराबुद्दीन ही नहीं, राफेल मुद्दे पर भी जिस तरह बेनकाब हुई है, उसके लिए उसे देश से माफी मांगनी चाहिए।

    मुख्यमंत्री ने कहा, "अगस्ता वेस्टलैंड मामले में कांग्रेस का झूठ उजागर हो गया है। क्रिश्चियन मिशेल के बयान से स्पष्ट है कि इस मामले में दलाली खाई गई थी। राफेल मुद्दे ने दिखा दिया कि कांग्रेस राजनीतिक हितों को पूरा करने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है।"

    उन्होंने कहा, "अदालत के फैसलों से कांग्रेस के षड्यंत्रों का खुलासा हो रहा है और सच सामने आ रहा है। कांग्रेस उभरते हुए लोगों टार्गेट करती है। मोदी व शाह के खिलाफ किया गया षड़यंत्र इस बात का उदाहरण है।"

    मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 2004-14 तक कांग्रेस ने राजनीतिक साजिश का जल बिछाया, और देश के संविधान और कानून को कुचलने का प्रयास किया।

    मुख्यमंत्री ने कहा, "कांग्रेस अपने फायदों के लिए देश की सुरक्षा के साथ खेलती रही है। सत्ता में रह कर सत्ता का दुरुपयोग कांग्रेस ने किया था।"

Reporter : ,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।