​ ​ कांग्रेस पर संकट राहुल गांधी और उनके खानदान के कारण : उमा भारती
Monday, August 10, 2020 | 4:33:18 PM

RTI NEWS » News » Politics


कांग्रेस पर संकट राहुल गांधी और उनके खानदान के कारण : उमा भारती

Tuesday, July 14, 2020 13:28:37 PM , Viewed: 721
  • भोपाल 14 जुलाई । मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने कांग्रेस की राजस्थान सरकार पर गहराए संकट के बीच तंज कसा है। उनका कहना है कि कांग्रेस का यह हाल राहुल गांधी और उनके खानदान के कारण हो रहा है, कांग्रेस में प्रतिभाशाली युवाओं को कोई महत्व नहीं दिया जा रहा है।

    पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को उमा भारती से मुलाकात की। उमा भारती ने सिंधिया परिवार और अपने संबंधों को याद किया और कहा कि ज्योतिरादित्य सिर्फ मध्य प्रदेश ही नहीं पूरे देश में जगमगाएंगे। उनसे जब राजस्थान के सियासी घटनाक्रम को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, "सारा संकट राहुल गांधी और उनके खानदान के कारण है। क्योंकि नौजवानों का अपमान किया जाता है, नीचा दिखाते है, उनसे ईष्र्या करते है। खुद काम और मेहनत करना नहंी चाहते।"

    उन्होंने आगे कहा राहुल गांधी तेजस्वी व युवाओं को बर्दाश्त नहीं कर पाते। उनकी बेज्जती करते है, इस स्थिति में उनके पास टकराव के अलावा कोई रास्ता नहीं बचता। सचिन पायलट स्वाभिमानी है। उनके परिवार को करीब से जानती हूं। वह राजेश पायलट का बेटा है। जब तक राहुल गांधी के खानदान के लोग कांग्रेस में रहेंगे तब तक यह पालात लोक में चली जाएगी।

    पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा राहुल गांधी को पार्टी की कमान सौंपे जाने की मांग के सवाल पर उमा भारती ने कहा, "यह तो दिग्विजय सिंह ही जाने क्यों कहा, जैसे दिग्विजय वैसे राहुल, मै तो इतना जानती हूं कि जैसा गुरु वैसा चेला। "

    --आईएएनएस

Keywords : ,

Reporter : ,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।