​ ​ गोवा कांग्रेस के 10 विधायक भाजपा में शामिल होना चाहते थे : तेंदुलकर
Thursday, June 20, 2019 | 11:42:41 PM

RTI NEWS » News » Politics


गोवा कांग्रेस के 10 विधायक भाजपा में शामिल होना चाहते थे : तेंदुलकर

Wednesday, June 12, 2019 17:34:31 PM , Viewed: 33
  •  पणजी, 12 जून | गोवा के 10 कांग्रेसी विधायक पार्टी के विधायक दल का भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) में विलय चाहते थे, लेकिन पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने इस पहल को नामंजूर कर दिया है।

     प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विनय तेंदुलकर ने बुधवार को यह जानकारी दी।

    तेंदुलकर ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गिरीश चोडनकर के उन आरोपों को खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने कहा था कि कांग्रेस विधायकों को पाला बदलने के लिए 40-60 करोड़ रुपये की पेशकश की गई।

    तेंदुलकर ने प्रदेश भाजपा मुख्यालय में एक प्रेस वार्ता में कहा, "हम अपनी तरफ से किसी भी पार्टी को अस्थिर नहीं करना चाहते हैं। सरकार चलाने के लिए 23 विधायक काफी हैं। इससे पहले 10 कांग्रेसी विधायक भाजपा में शामिल होने के लिए आए थे, लेकिन केंद्रीय नेतृत्व ने योजना खारिज कर दी थी। हमने स्पष्ट रूप से ना कहा है।"

    तेंदुलकर ने कहा कि कांग्रेस नेताओं के भाजपा में शामिल होने का राष्ट्रव्यापी ट्रेंड चल रहा है, क्योंकि वे मानते हैं कि 'भाजपा अगले 25 वर्षो तक सत्ता में रहने वाली है।'

    इससे कुछ दिन पहले कांग्रेस नेता चोडनकर ने भाजपा पर पैसे या फिर मंत्री पद का लालच देकर उनके पार्टी विधायकों के खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया था।

    तेंदुलकर ने हालांकि चोडनकर के आरोप को आधारहीन बताया।

    तेंदुलकर ने कहा, "कांग्रेस अध्यक्ष गिरीश चोडनकर आधारहीन आरोप लगा रहे हैं। भाजपा के अधिकारी या विधायक ने पार्टी में प्रवेश को लेकर किसी विधायक से बात नहीं की है और न ही कोई चर्चा चल रही है।"

    उन्होंने कहा कि दो कांग्रेसी विधायक सुभाष शिरोडकर और दयानंद सोप्ते गत वर्ष पार्टी में शामिल हुए थे। भाजपा और दोनों नेताओं के बीच कोई वित्तीय लेन-देन नहीं हुआ था।

    उन्होंने कहा, "वे(गिरीश) जो 40-60 करोड़ रुपये के आंकड़े और मंत्री पद देने की बात कह रहे हैं, कांग्रेस को इसकी आदत होगी, भाजपा को नहीं है।"

Reporter : ,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।