​ ​ मुंबई हमले को कांग्रेस बना सकती थी अंतर्राष्ट्रीय मुद्दा : सुषमा
Thursday, May 23, 2019 | 5:25:22 PM

RTI NEWS » News » Politics


मुंबई हमले को कांग्रेस बना सकती थी अंतर्राष्ट्रीय मुद्दा : सुषमा

Wednesday, May 15, 2019 23:40:16 PM , Viewed: 93
  •  वाराणसी, 15 मई | विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को यहां कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि साल 2008 में मुंबई में हुए हमले को कांग्रेस अंतर्राष्ट्रीय मुद्दा बनाकर पाकिस्तान को वैश्विक स्तर पर अलग-थलग कर सकती थी, लेकिन वह उसमें विफल रही।

     सुषमा स्वराज ने यहां एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, "वर्ष 2008 में मुंबई आतंकी हमले में मारे गए लोगों में 40 दूसरे 14 देशों के थे। तब कांग्रेस सरकार इसे अंतर्राष्ट्रीय मुद्दा बनाकर पाकिस्तान को वैश्विक स्तर पर अलग-थलग कर सकती थी, लेकिन वह सफल नहीं हुई।"

    उन्होंने कहा, "जबकि मोदी सरकार ने उरी व पुलवामा हमले का बदला सर्जिकल व एयर स्ट्राइक से लिया। वैश्विक स्तर पर पाकिस्तान को अलग-थलग किया। अबूधाबी में ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक स्टेट के सम्मेलन में पाकिस्तान के विरोध के बावजूद भारत को बुलाया गया। मसूद अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित कराया गया।"

    सुषमा ने कहा, "वैश्विक स्तर पर पहली बार विदेश दौरों पर भारतीय लोगों की रैलियां हुईं, इसमें नरेंद्र मोदी उनसे मुखातिब हुए। इससे दूसरे देशों में हमारे लोगों व देश का मान बढ़ा। साथ ही अब भारतीय दूतावास वहां के लोगों के दोस्त के तौर पर काम करते हैं। पांच साल में महज एक ट्वीट पर विदेश मंत्रालय ने बाहर फंसे ढाई लाख लोगों को निकाल लाया।"

    उन्होंने कहा, "2014 में भारत विश्व में पांच सबसे चरमराती अर्थव्यवस्था में से एक था। अब सबसे तेजी से बढ़ने वाली छठी अर्थव्यवस्था है। भारत 142वें से 77वें स्थान पर पहुंच गया है।"

    विदेश मंत्री ने कहा, "भाजपा को प्रचंड बहुमत दिलाने में वाराणसी का बड़ा योगदान होगा। वाराणसी के लोग अपना सांसद नहीं, बल्कि एक प्रधानमंत्री चुन रहे हैं।"

Reporter : ,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।