​ ​ निर्वाचन आयोग योगी पर लगा प्रतिबंध हटाए : भाजपा
Sunday, July 21, 2019 | 10:09:50 PM

RTI NEWS » News » Politics


निर्वाचन आयोग योगी पर लगा प्रतिबंध हटाए : भाजपा

Monday, April 15, 2019 19:49:59 PM , Viewed: 122
  • लखनऊ, 15 अप्रैल | भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने निर्वाचन आयोग से योगी आदित्यनाथ पर 72 घंटे का लगा प्रतिबंध हटाने की मांग की है। आयोग ने 'उनके अली तो हमारे बजरंगबली' कहकर सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के प्रयास की शिकायत पर कार्रवाई की है। भाजपा के स्टार प्रचारक योगी अभी चुनाव प्रचार व प्रेसवार्ता नहीं कर पाएंगे।

    भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा, "हमारी पार्टी एक अनुशासित राजनीतिक दल है और हम भारतीय निर्वाचन आयोग के हर निर्णय का सम्मान करते हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहीं भी किसी भी प्रकार से न तो कहीं धार्मिक भावनाओं को भड़काने का काम किया और न ही धार्मिक उन्माद फैलाने वाला बयान दिया। बल्कि योगी ने सिर्फ अपने आराध्य का नाम लिया है।"

    डॉ. पांडेय ने कहा कि दूसरी तरफ बसपा प्रमुख मायावती और सपा नेता आजम खां ने धार्मिक आधार पर वोट मांगा और वोटों के लिए धार्मिक उन्माद भी फैलाने का प्रयास किया। आजम खां ने तो सामान्य मानवीय मूल्यों की पराकाष्ठा पार करते हुए अभद्र व अमर्यादित भाषा का उपयोग किया। कार्रवाई तो ऐसे लोगों के खिलाफ होनी चाहिए, न कि मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ।

    उन्होंने निर्वाचन आयोग से अपील की है कि मुख्यमंत्री योगी पर 72 घंटे का प्रतिबंध लगाए जाने के अपने निर्णय पर पुनर्विचार करते हुए प्रतिबंध को समाप्त करे।

    निर्वाचन आयोग ने मायावती पर भी 48 घंटे का प्रतिबंध लगाया है और आजम खां के खिलाफ मामला दर्ज हो चुका है।

    गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी ने बीते दिनों चुनावी जनसभाओं में विपक्षी दलों पर तीखे शब्दों का प्रयोग करते हुए हमला बोला था। उन्होंने 'अली-बजरंगबली' वाला बयान देने के अलावा भारत की सेना को 'मोदीजी की सेना' कहा था। इसका संज्ञान लेते हुए निर्वाचन आयोग ने सोमवार को योगी पर जनसभा या प्रेसवार्ता करने पर 16 अप्रैल की सुबह 6 बजे से 72 घंटे के लिए प्रतिबंध लगा दिया है।

     

Reporter : ,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।