​ ​ उप्र : बाबा साहेब के परिनिर्वाण दिवस पर राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
Saturday, December 15, 2018 | 8:35:28 PM

RTI NEWS » News » Politics


उप्र : बाबा साहेब के परिनिर्वाण दिवस पर राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि

Thursday, December 6, 2018 21:25:12 PM , Viewed: 100
  • लखनऊ, 6 दिसंबर | डॉ. भीमराव अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को अंबेडकर महासभा में उन्हें श्रद्धाजंलि अर्पित की। इस मौके पर राज्यपाल ने कहा कि बाबा साहेब डॉ. बी.आर. अंबेडकर बेहद प्रतिभाशाली एवं अनोखे व्यक्तित्व के धनी थे। उन्होंने बहुत कष्ट उठाकर उच्च शिक्षा प्राप्त की और महान शिक्षाविद्, कानूनवेत्ता और समाज सुधारक बने।

    संविधान निर्माण में बाबा साहेब के योगदान को भारतवासी युगों-युगों तक स्मरण करेंगे। उन्होंने कहा, "संविधान हमें अधिकार व दायित्व दोनों का बोध कराता है। शिक्षा के क्षेत्र में उन्होंने उल्लेखनीय कार्य किया। डॉ. आंबेडकर का मानना था कि शिक्षा को बढ़ावा देकर ही समाज में परिवर्तन लाया जा सकता है।"

    नाईक ने कहा कि बाबा साहेब भारतीय संविधान की ड्राफ्टिंग कमेटी के अध्यक्ष थे, जो अत्यंत चुनौतीपूर्ण कार्य था। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने डॉ. अंबेडकर को भारतीय संविधान का शिल्पी बताते हुए कहा कि आज पूरा देश भारत माता के इस सपूत को अपनी श्रद्धांजलि दे रहा है।

    योगी ने कहा, "अंबेडकर का मानना था कि समता मूलक समाज की स्थापना करके ही स्वस्थ समाज की संकल्पना को साकार किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सामाजिक, आर्थिक विषमता, समाज के लिए अभिशाप है। इसलिए हम सभी समतामूलक समाज के निर्माण के लिए प्रयासरत हैं।"

    मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने गरीबों, वंचितों को आवास, गैस कनेक्शन, विद्युत कनेक्शन तथा शौचालय उपलब्ध कराने के साथ-साथ मुद्रा व स्टार्टअप जैसी योजनाओं के माध्यम से भी उन्हें लाभान्वित करने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हर सरकारी कार्यालय में डॉ. अंबेडकर की तस्वीर सम्मानजनक ढंग से स्थापित की गई है।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार वर्ष 2018-19 में 25 लाख विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति देने का कार्य कर रही है, जिसकी पहली किस्त लाभार्थियों के खाते में अंतरित की जा चुकी है। शेष धनराशि 26 जनवरी, 2019 को अंतरित कर दी जाएगी।

    उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में 3.5 करोड़ परिवारों को राशन कार्ड दिया जाएगा। केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से प्रत्येक गरीब परिवार को 5 लाख रुपये का बीमा कवर दिया जा रहा है, जो स्वास्थ्य की दिशा में विश्व की सबसे बड़ी योजना है।

    योगी ने कहा कि वर्तमान सरकार ने उप्र अनुसूचित जाति, जनजाति वित्त विकास निगम को पुनर्जीवित करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि निगम कार्य योजना बनाकर प्रत्येक वर्ष सभी जनपदों में 10 अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के लोगों को स्वावलंबन से जोड़ने की दिशा में कार्य करे। इससे आनेवाले समय में सकारात्मक परिवर्तन देखने को मिलेगा।

    इससे पहले राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने डॉ. अंबेडकर महासभा परिसर में स्थापित तथागत बुद्ध की प्रतिमा पर माल्यार्पण तथा डॉ. अंबेडकर के अस्थिकलश पर पुष्पांजलि भी अर्पित की।

    इस अवसर पर राज्य सरकार के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, रीता बहुगुणा जोशी, लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया सहित कई लोग मौजूद रहे।

     

Reporter : ,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।