​ ​ उप्र : न्याय के इंतजार में बेटी ने मुंड़ाया सिर
Monday, October 21, 2019 | 9:36:28 AM

RTI NEWS » News » National


उप्र : न्याय के इंतजार में बेटी ने मुंड़ाया सिर

Monday, September 16, 2019 17:35:44 PM , Viewed: 60
  • झांसी (उत्तर प्रदेश), 16 सितम्बर | उत्तर प्रदेश के झांसी जिले में एक महिला ने न्याय प्राप्त करने के लिए अधिकारियों का ध्यान खींचने के लिए नया तरीका अपनाया है। रिपोर्ट के अनुसार, महिला हर रोज अपना सिर मुंड़ा लेती है और वह अपने बालों को तब तक बड़ा नहीं होने देगी, जब तक पुलिस उसके पिता के हत्या मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करती है।

    अपना नाम नहीं जाहिर करने का आग्रह करते हुए महिला ने कहा, "मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व अल्पसंख्यक आयोग को अपने पिता के लिए न्याय की मांग करते हुए अर्जी भेजी है।"

    रिपोर्ट के अनुसार, घटना बीते महीने नवाबाद पुलिस सर्किल में हुई, जहां महिला बहरे-गूंगे बच्चों के लिए एक संस्थान चलाती है।

    इस हत्या के पीछे का उद्देश्य साफ तौर पर संपत्ति विवाद है और उसकी बेटी ने अपने पड़ोसियों वीरेंद्र कुमार व राजीव कुमार का नाम प्राथमिकी में दर्ज कराया है।

    उसने अपनी शिकायत में कहा है, "उन्होंने मेरे पिता की हत्या की और उनका शव छत से नीचे फेंक दिया।"

    महिला ने नवाबाद पुलिस थाने के प्रभारी (एसएचओ) संजय सिंह पर भी आरोपियों को सह देने का आरोप लगाया है, जिन्हें अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।

    वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) झांसी ओम प्रकाश सिंह ने कहा कि उन्हें मामले से अवगत कराया गया है और वह मामले की निजी तौर पर जांच करेंगे।

    महिला ने कहा है कि वह अपना सिर मुंड़ाना जारी रखेगी, जब तक कि आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती।

     

Reporter : ,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।