​ ​ लिवाली बढ़ने से चने में फिर लौटी तेजी
Wednesday, September 26, 2018 | 1:33:45 AM

RTI NEWS » News » Business


लिवाली बढ़ने से चने में फिर लौटी तेजी

Thursday, July 12, 2018 18:43:29 PM , Viewed: 103
  • नई दिल्ली, 12 जुलाई | लिवाली बढ़ने से गुरुवार को फिर चने की कीमतों में तेजी आई। घरेलू वायदा बाजार में चने के दाम में डेढ़ से दो फीसदी का उछाल दर्ज किया गया।

    हालांकि हाजिर भाव में कोई विशेष बढ़त नहीं थी मगर मौजूदा कीमतों पर मिलों की मांग बढ़ गई। देश में कृषि उत्पादों का सबसे बड़ा वायदा बाजार नेशनल कमोडिटी एंड डेरीवेटिव्स एक्सचेंज (एनसीडीईएक्स) पर बेंचमार्क अगस्त डिलीवरी चना अनुबंध में अपराह्न् 3.09 बजे 69 रुपये यानी 1.79 फीसदी की तेजी के साथ 3,917 रुपये प्रतिक्विं टल पर कारोबार हुआ। इससे पहले अगस्त वायदा सौदा 3,850 रुपये पर खुला और 3,928 रुपये प्रति क्विंटल तक उछला। कारोबार के दौरान अगस्त सौदे में निचला स्तर 3,840 रुपये प्रतिक्विं टल रहा।

    एनसीडीईएक्स पर जुलाई अनुबंध बढ़त के साथ 3,827 रुपये पर खुला और 3,890 रुपये प्रति क्विं टल तक उछला। हालांकि बाद में 74 रुपये यानी 1.94 फीसदी की बढ़त के साथ 3,881 रुपये प्रति क्विं टल पर कारोबार हुआ।

    चना के भाव में पिछले दो हफ्ते के दौरान करीब 450 रुपये की तेजी आई है। इससे पहले 26 जून को जुलाई चने का जुलाई अनुबंध एनसीडीईएक्स पर 3,423 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुआ था। हालांकि इससे पहले मंगलावार को बुधवार को ऊंचे भाव पर मुनाफावसूली के कारण चने के भाव में आई तेजी थम गई थी।

    हाजिर में दिल्ली के लॉरेंस रोड मंडी में गुरुवार को राजस्थान लाइन चना स्थिर भाव 4,000 रुपये प्रति क्विं टल और मध्यप्रदेश लाइन चना 50 रुपये की बढ़त के साथ 3,950 रुपये प्रति क्विं टल पर बिका। स्थानीय चना कारोबारी ने बताया कि मौजूदा भाव पर मिलों की मांग तेज है।

    कारोबारियों के अनुसार, हाजिर बाजार में चने की आपूर्ति कम हो रही है जबकि मांग तेज है इसलिए तेजी देखी जा रही है।

    केंद्रीय कृषि मंत्रालय की ओर से फसल वर्ष 2017-18 (जुलाई-जून) के लिए जारी तीसरे अग्रिम उत्पादन अनुमान के अनुसार देश में इस साल चना का उत्पादन 116.6 लाख टन है, जबकि पिछले साल 2016-17 में चने का उत्पादन 93.8 लाख टन था।

Reporter : ,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।