​ ​ कर्मचारियों को स्वास्थ्य जोखिमों की जानकारी देगा एचसीएपी कार्यक्रम
Monday, September 24, 2018 | 8:03:22 PM

RTI NEWS » Entertainment » Health


कर्मचारियों को स्वास्थ्य जोखिमों की जानकारी देगा एचसीएपी कार्यक्रम

Wednesday, July 11, 2018 22:40:02 PM , Viewed: 53
  • नई दिल्ली, 11 जुलाई | नेशनल फर्टिलाइजर्स लिमिटेड की नंगल फैक्ट्री में दो दिवसीय वर्चुअल हॉस्पिटल्स हेल्थ केयर असिस्टेंस प्रोग्राम (एचसीएपी) शुरू किया गया।

    इस कार्यक्रम में कर्मचारियों के हेल्थ रिस्क प्रोफाइलिंग सत्र के साथ साथ विशेषज्ञ डॉक्टरों, पोषण विशेषज्ञों और योग शिक्षक द्वारा इंटरैक्टिव सत्रों का भी आयोजन किया गया। मैक्स अस्पताल के एमडी मेडिसिन डॉ. आकाश गर्ग ने कहा, अच्छा पोषण एक स्वस्थ जीवनशैली का नेतृत्व करने के लिए महत्वपूर्ण है। शारीरिक गतिविधि के साथ, आपका आहार आपको स्वस्थ वजन तक पहुंचने और उसे बनाए रखने में मदद कर सकता है। हमारा भोजन हमारे आज और भविष्य के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है।

    उन्होंने कहा, पोषक आहार से हम अपने शरीर को स्वस्थ, सक्रिय और मजबूत रखने की ताकत देते हैं। शारीरिक गतिविधि के साथ, आपके आहार में छोटे बदलाव करने का असर आप लंबे समय तक महसूस कर सकते हैं। इस छोटे से कदम से आप लंबे समय तक स्वस्थ रह सकते हैं।

    आईवीएच एचसीएपी के प्रमुख राय उमरावपति रे ने कहा, इस कार्यक्रम से कर्मचारियों को अपने स्वास्थ्य, चिकित्सा और ऑपरेशन संबंधी देखभाल की व्यवस्था में मदद मिलती है। इससे मरीज को विशेषज्ञ की सलाह लेकर, सर्वोत्तम चिकित्सा योजना बनाने, अस्पताल में भर्ती होने के लिए अस्पताल की टीम के साथ तालमेल बनाने और ऑपरेशन के बाद उबरने एवं सेवाओं के समय मरीजों एवं उनके परिजनों के लिए आवश्यक परामर्श उपलब्ध कराने में भी मदद मिलती है।

    यह कार्यक्रम स्वास्थ्य सहायता और कल्याण मॉडल का एक अच्छा मिश्रण है जहां कर्मचारियों को प्रभावी लागत पर परेशानी मुक्त उपचार अनुभव करने का अधिकार दिया जाता है। इसमें उन्हें लगातार निर्देशित और परामर्श दिया जाता है और बेहतर स्वास्थ्य के लाभों से अवगत कराया जाता है जिससे बेहतर उत्पादकता और संतुष्टि होती है।

Reporter : ,
RTI NEWS


Disclaimer : हमारी वेबसाइट और हमारे फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होने वाली तस्वीरों और सूचनाएं के लिए किसी प्रकार का दावा नहीं करते। इन तस्वीरों को हमने अलग-अलग स्रोतों से लिया जाता है, जिन पर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है। यदि आपको लगता है कि हमारे द्वारा इस्तेमाल की गई कोई भी तस्वीर आपके कॉपीराइट का उल्लंघन करती है तो आप यहां अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं- rtinews.net@gmail.com

हमें आपकी प्रतिक्रियाओं की प्रतीक्षा है। हम उस पर अवश्य कार्यवाही करेंगे।


दूसरे अपडेट पाने के लिए RTINEWS.NET के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।